About Lohagarh Fort |  लोहागढ़ किले के बारे मेंtopjankari.com

About Lohagarh Fort | लोहागढ़ किले के बारे में

About Lohagarh Fort | लोहागढ़ किले के बारे में.

save water save tree !

लोहागढ़ किला या लौह किला 18 वीं शताब्दी के प्रारंभ में जाट शासक, महाराजा सूरज मल द्वारा बनाया गया था। लोहागढ़ किला भरतपुर के जाट शासकों की शिष्टता और वीरता का जीवंत प्रमाण है। अपने अभेद्य सुरक्षा के कारण किले को लोहागढ़ के नाम से जाना जाने लगा। लोहागढ़ किला गहरी खाई से घिरा और संरक्षित था। हालांकि लोहागढ़ किले में इस क्षेत्र के अन्य किलों की भरमार का अभाव है, लेकिन इसकी ताकत और भव्यता अतुलनीय है।

किले के कुछ आकर्षक स्मारक किशोरी महल, महल खास, मोती महल और कोठी खास हैं। सूरज मल ने किले के अंदर जवाहर बुर्ज और फतेह बुर्ज का निर्माण किया, ताकि मुगलों और अंग्रेजों पर अपनी जीत दर्ज की जा सके। एक अष्टधातु (आठ-धातु) प्रवेश द्वार है, जिसमें विशाल हाथियों के चित्र हैं। इन सभी उपरोक्त गुणों और विशेषताओं के कारण लोहागढ़ किला कई ब्रिटिश हमलों को विफल करने में सक्षम था। अंग्रेजों ने चार बार लोहागढ़ किले की घेराबंदी की, लेकिन सभी मौकों पर घेराबंदी बढ़ानी पड़ी।

Link